in ,

कोरोना के चलते देश के कई नेताओं की हुए मौत, देखिए पूरी लिस्ट कितने MP, MLA का हुआ निधन…

 
देश – दुनिया में कोरोना का कहर जारी हैं, जिसकी चपेट में आम से लेकर खास लोग भी आ रहे हैं। भारत के पूर्व राष्ट्रपति से लेकर कई मंत्री, विधायक और सांसदों ने इस वैश्विक महामारी के चलते प्राण गंवाए हैं। तो आइए जानते हैं ऐसे तमाम नेताओं की सूची…..

इस माहामारी के चलते पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, हाल ही में केंद्रीय राज्य सुरेश अंगड़ी, देश के चार सांसद और कई विधायकों की जान इस के चलते है हैं।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी नई दिल्ली के सेना के आर एंड आर अस्पताल में ब्रेन सर्जरी के लिए एडमिट हुए थे, जहां वह कोविड़-19 पॉजिटिव पाए गए। लंबे इलाज के बाद 31 अगस्त को उनकी मौत हो गई हैं।

सांसद की मौत covid-19 से हुई हैं

आंध्रप्रदेश के तिरुपति लोकसभा से सांसद बल्ली दुर्गा प्रसाद को भी चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल में 16 सितंबर को कोरोना के चलते मौत हुई हैं।

बीजेपी के कर्नाटक से राज्यसभा सांसद अशोक गस्ती का भी 55 वर्ष की उम्र में निधन हो गया । वह कुछ दिन पहले ही सांसद बने थे और संसद पहुंचे भी नहीं थे।

तमिलनाडु के कन्याकुमारी से कांग्रेस के सांसद एच वसंत कुमार ने कोरोना संक्रमण के चलते 70 साल की उम्र में 28 अगस्त को दम तोड़ दिया है।

महाराष्ट्र के पूर्व सांसद हरिभाऊ जावले की भी इस महामारी के चलते कुछ ही दिन पहले मौत हो गई है।

Covid-19 से जान गंवाने वाले विधायक

इस महामारी ने सांसदों के अलावा कई विधायको और राज्य सरकारों के मंत्रियों की भी जान ले ली है, अब तक यूपी, बिहार, वेस्ट बंगाल, एमपी, तमिलनाडु, और कर्नाटक जैसे राज्य शामिल है। यूपी में तो एक ही माह में योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट के दो मंत्रियों की मौत हो गई है।

जिसमें योगी कैबिनेट की एक मात्र महिला सदस्य कमल रानी वरुण का निधन कोरोना के चलते हुआ हैं। वह यूपी की तकनीकी शिक्षा मंत्री थी और घाटपुर से विधायक थीं।

कमल रानी के बाद यूपी के एक और मंत्री, क्रिकेटर से नेता बने प्रदेश के नागरिक सुरक्षा मंत्री चेतन चौहान की भी कोरोना के चलते मौत हुई हैं। लखनउ के पीजीआई में इनका इलाज चल रहा था।फिर दिल्ली के मेदांता में उनका निधन हो गया । चेतन यूपी के अमरोहा से विधायक थे। 

बिहार के बीजेपी के विधान परिषद सदस्य सुनील सिंह का भी कोरोना के चलते निधन हो गया।

बिहार से ही वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का भी कोरोना के चलते दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया। हालांकि वह वायरस से ठीक हो गए थे लेकिन 13 सितंबर को उनका निधन हुआ हैं।

वेस्ट बंगाल से टीएमसी विधायक समरेश दस का भी Covid 19 के चलते मौत हुई है दास पूर्वी मिदनापुर के एमरा से विधायक थे।

वहीं एक और टीएमसी विधायक तमनोश घोष का भी इस महामारी के चलते निधन हो हुआ है वह बंगाल कि फाल्टा सीट से विधायक थे।

इसके अलावा बंगाल के 76 साल के सीपीआईएम नेता श्यामल चक्रबर्ती की भी कोरेाना के चलते मौत हो गई। वह परिवहन मंत्री रह चुके थे।

मध्यप्रदेश के एक मात्र और ब्यावरा से कांग्रेस के विधायक गोवर्धन सिंह दांगी की भी दिल्ली के मेदांता अस्पताल कोविड़ के संक्रमण के बाद 15 सितंबर को निधन हो गया। हालांकि वह भी कोरोना से ठीक हो गए थे।

वहीं तमिलनाडु से डीएमके के अंबाझगन चेपुक – तिरुवल्लीकेनी से विधायक जे अंबाझगन की जून में मौत हुई थी।

 लद्दाख के लेह से वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व मंत्री पी नामग्याल की भी जून में मौत हो गई। वो मौत के बाद कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। वरिष्ठ कांग्रेस नेता के पी नामग्याल (83 साल) राजीव गांधी सरकार में मंत्री रहे थे।

महाराष्ट्र के पुणे में पंढारपुर से पाँच बार विधायक रहे सुधारक परिचारक की भी अगस्त महीने में कोरोना के कारण मृत्यु हो गई। वहीं गोवा राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरेश अमोनकर की 06 जुलाई को कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई। इनके अलावा कई अन्य वरिष्ठ लोगों की मौत हो चुकी हैं। देश भर में 1 लाख से ज्यादा लोगों ने covid 19 के चलते निधन हुआ तो वहीं 60 लाख से करीब लोग भारत में इससे संक्रमित हुए हैं।

Written by Devraj Dangi

मथुरा: “शाही मस्जिद को हटा, 13.37 एकड़ जमीन खाली कर”: श्रीकृष्ण विराजमान की ओर से न्यायालय में सिविल याचिका दायर

संयुक्त राष्ट्र संघ को संबोधित करते पीएम मोदी ने पाक और चीन को लेकर कहीं ये बड़ी बात, पढ़िए…