in , ,

भारत की पाक को दो टूक, गिलगिट – बाल्टिस्तान को स्थिति बदलने का दुस्साहस ना करें, अन्यथा अंजाम बुरा होगा

पाकिस्तान पाक अधिकृत कश्मीर की राजनीतिक स्थिती बदलने का प्रयास कर रहा है। इसको लेकर भारत ने अपनी स्थिति साफ करते हुए पाक को साफ – साफ शब्दों में कह दिया हैं कि वह गिलगित + बाल्टिस्तान पर कायराना हरकते बन्द करे।

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि “पाकिस्तान को गिलगित – बाल्टिस्तान की स्थिति बदलने का कोई अधिकार नहीं है । पाकिस्तान के पास कोई कानूनी आधार नहीं है कि वह सेना को बदौलत इस इलाके की स्थिति से छेड़छाड करे।

कुछ दिनों से ऐसी खबरे आईं है कि पाकिस्तान गिलगिट – बाल्टिस्तान को पूर्ण राज्य का स्टेटस देने की फिराक में हैं। पाक ने इस क्षेत्र में 15 नवंबर को स्टेट असेम्बली के चुनाव कराने का फैसला लिया है। पाक के राष्ट्रपति डॉ. आरिफ अल्वी ने बुधवार को गिलगित बाल्टिस्तान में चुनाव संबंधी अधिसूचना भी जारी की हैं। हालांकि यह चुनाव 18 अगस्त 2020 को होने वाले थे लेकिन कोरोना महामारी के चलते यह नहीं हो पाया था।

कुछ दिनों पहले ही कश्मीर और गिलगित बाल्टिस्तान मामलों के पाकिस्तानी मंत्री अली अमीन गंडापुर ने कहा था कि पीएम इमरान खान जल्द ही इस क्षेत्र को पो पूर्ण राज्य का दर्जा देने का ऐलान कर सकते हैं। इसके बाद इस क्षेत्र को पूर्ण राज्य के तौर पर सभी संवैधानिक अधिकार मिल जाएंगे। इस माह 16 सितंबर को सरकार ने इस मसले पर सभी विपक्षी नेताओं और सेना प्रमुख जनरल कामर जावेद बाजवा से चर्चा करी थी।

भारत सरकार ने पहले भी पाकिस्तान को आगाह कर चुका है कि अगर पीओके पर उसका कोई अधिकार नहीं है। यह पूरा क्षेत्र समेत केंद्र शासित प्रदेश जम्मू – कश्मीर और लद्दाख का पूरा इलाका भारत का अभिन्न हिस्सा हैं (Intergal Part) हैं, जो विधि सम्मत और अपरिवर्तनीय हैं।

आपको बता दे कि पाकिस्तान अपने दोस्त चीन की दम पर लगातार एक बाद एक भारत को उकसाने वाली करवाई कर रहा है। पाकिस्तान बॉर्डर पर लगातार सीजफायर का उलंघन कर रहा है।

वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने भारत – चीन सीमा पर जारी गतिरोध के बारे में विस्तार से बात की हैं। उन्होंने बताया कि दोनों देशों के बीच उच्च स्तरीय कमांडर स्तर कि वार्ता सम्पन्न हुई। दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर सहमति बनी हैं।

Written by Devraj Dangi

मोदी ने हिंदी, कश्मीरी व डोंगरी को दिलाया न्याय, तीनों बनी J&K की आधिकारिक भाषा, संसद ने लगाई मुहर

लव जिहाद: हिन्दू लड़की प्रिया के धर्मांतरण नहीं करने पर पति एजाज अहमद ने सर काटकर की हत्या, कुछ दिन पहले किया था प्रेम विवाह