in ,

सीमा पर भारत से हार चुका चीन, अब पीएम, राष्ट्रपति समेत इन लोगों की कर रहा जासूसी!

भारत – चीन के बीच जारी सीमा विवाद फिलहाल समाप्त होता दिखाई नहीं दे रहा है। पिछले 2 – 3 महीनों से दोनों देशों की सेना आमने – सामने हैं।

यह भी पढ़ेभारतीय सैनिकों के डर से रोने लगे चीनी सैनिक, देखे वीडियो

सबसे पहले 14 जून को गलवान घाटी में दोनों सेनाओं के बीच हिंसक झड़प हुई थी, जिसमें 20 भारतीय सैनिकों को शहादत प्राप्त हुई थी। वहीं चीन के भी कई सैनिक मारे जाने की खबर थी।

इसके बाद 29-30 अगस्त की मध्य रात्रि को चीन ने भारतीय में घुसने की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय सेना ने उसे रोक दिया।जिसके चलते दोनों सेनाओं के बीच दशकों बाद गोलीबारी हुई थी।

लेकिन चीन जब हर मोर्चे पर भारत के आगे पस्त हो गया , एलएसी पर भारत ने बढ़ाते बनाते हुए कई महत्वपूर्ण चोटियों पर कब्जा कर लिया है। चीन अब भारत पर मनोवैज्ञानिक प्रभाव डालना चाहता है।

कहते हैं समझदारी वाला युद्ध वहीं हैं जो बिना लड़े युद्ध जीत जाए। लेकिन इसका मतलब यह हैं कि चीन भारत के आगे पूरी तरह विफल हैं। अब उसने दूसरा सहारा लिया है भारत सरकार और सेना पर मानसिक दबाव डालने की कोशिश कर दी है।

वह अपने अखबार ग्लोबल टाइम्स के जरिए झूठी खबर फैलता हैं, भारतीय सेना के बारे में गलत जानकारी फैलता है। अब उसने भारतीय नेताओं और प्रमुख लोगों की जासूसी करना शुरू कर दिया है।

सूचना के इस युद्ध में वह दो हाथ बढ़कर जासूसी की कोशिशों में भी लगा है, जिसका खुलासा हाल में दो घटनाओं से हुआ है। पहली घटना एक टेक्नोलॉजी कंपनी के माध्यम से चीन की सरकार द्वारा भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों, सांसदों, विधायकों, सेना प्रमुखों, खिलाड़ियों, उद्यमियों समेत हमारे देश के 10 हजार लोगों की निगरानी की है। दूसरी घटना चीनी खुफिया एजेंसी के लिए भारत स्थित एक स्वतंत्र पत्रकार के अलावा एक चीनी महिला और नेपाली नागरिक द्वारा काम करने से संबंधित है, जिन्हें हाल में पकड़ा गया है।

इससे साफ होता है कि चीन भारत के आगे पूरी तरह पस्त हो चुका है। उसे इस बात का अहसास हो गया कि वह भारत से युद्ध नहीं कर सकता है।

दो दिन पहले ही भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने एक भारतीय पत्रकार समेत एक चीनी महिला और उसके नेपाली साथी को गिरफ्तार कर लिया हैं। इन पर जासूसी का आरोप लगा था । यह भारतीय सेना और सैन्य से जुड़ी गोपनीय जानकारी चीन को साझा करते थे।

Written by Devraj Dangi

ड्रग्स मामले में दीपिका, सारा, श्रद्धा व रकुल प्रीत को NCB का समन जारी, बड़ सकती हैं मुश्किलें ?

बॉलीवुड के नशेड़ियों को बचाने के लिए लेखिका मेघना पंत ने “भगवान शिव” का किया अपमान, यह गंदी बात