in ,

वीडियो: भारत, चीन – पाकिस्तान से एक साथ अपना डिफेंस कर सकता है: पाक मीडिया

बीते कुछ महीनों से भारत और चीन के बीच लद्दाख के समीप सीमा विवाद जारी है, दोनों देशों की सेनाएं एलएसी पर आमने – सामने है । बीते माह 29 – 30 अगस्त की मध्य रात्रि को भारत और चीन की सेनाएं पैंगोंग लेक के पास आमने – सामने आ गई । इस रात को चीनी सैनिकों द्वारा की गई घुसपैठ को रोकने के लिए भारतीय सेना को पहली बार गोली चलानी पड़ी।

भारतीय सेना ने चीन पर जवाबी कार्रवाई करते हुए उन्हें खदेड़ दिया और पैंगोंग झील के पास स्थित काला पर्वत और कई हम चोटियों पर भारतीय सेना ने अपने अधिकार में ले लिया जिससे चीन बौखला गया है।

इस सब के बीच भारतीय सेना की ताकत को देखकर चीनी नहीं बल्कि पाकिस्तान भी कांप रहा है। पाकिस्तानी मीडिया में यह चर्चा है की भारत की ताकत बहुत बड़ी है। वह बहुत बड़ा बजट सेना के लिए खर्च करता है हर तरह के सैन्य हथियार और टेक्नोलॉजी खरीदना चाहता है।

पाकिस्तानी मीडिया चैनल पर बातचीत करते हुए पाकिस्तान की रक्षा विशेषज्ञ डॉक्टर रिजवाना अब्बासी कहती है कि, भारत इस समय अपनी ताकत को बढ़ा रहा है। 3 क्षेत्र है जिसमें भारत अपनी शक्ति में इजाफा कर रहा है। पहला पावर, भारत दुनिया और इस रीजन के अपना किरदार अदा करना चाहता है और क्षेत्रीय महाशक्ति बनना भी चाहता है।

दूसरा अपना मिलिट्री इंडस्ट्रियल कंपलेक्स इसके तहत वह मिलिट्री बेस कॉन्प्लेक्स बढ़ाना चाहता है, उसकी टेक्नोलॉजी प्रोड्यूस कर उसका प्रोडक्शन कर दुनिया को निर्यात करना चाहता है ।साथ उसकी सैन्य हत्यारों, उपकरणों को की निर्भरता को भी कम करना चाहता है।

तीसरा कैपेबिलिटी बेस्ट प्लानिंग पर काम कर रहा है उससे सलामती के लिए पाकिस्तान को खतरा हो सकता है।

इसके बाद डॉक्टर रिजवाना कहती है कि भारत की ताकत इतनी है कि वह पाकिस्तान और चीन से एक साथ मुकाबला करते हुए अपना डिफेंस कर सकता है। वह अपनी ताकत इसलिए बढ़ाना चाहता है कि इंडिया रीजन का और दुनिया के अंदर ग्रेटर पावर के रूप में उभर सके।

कहती है दुनिया की सभी ताकत एशिया में इंटरेस्ट ले रही है भारत, अमेरिका के साथ मिलकर रीजनल पावर बनना चाहता है और इंडो पेसिफिक व इंडियन ओसियन में भारत इतना पावरफुल हो गया की जब उसका मन चाहे वह चीन और पाकिस्तान का ट्रेड को रोक सकता है।

एंकर सवाल करता है कि “भारत के डिफेंस बजट में लगातार हो रही बढ़ोतरी, जबकि वह आर्थिक ,गरीबी से लड़ने और अवाम की बेहतरी के लिए काम कर सकता है वाजय रक्षा बजट को बढ़ाने।

डॉक्टर रिजवाना अब्बासी कहती है कि चाइना के रसूख को रोकना उसके मध्य ताकत बनना, बैलेंस ऑफ पावर को बनाए रखने के लिए जापान, साउथ कोरिया, इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के साथ अमेरिका मिलकर काम कर रहा है।

इस सवाल का जवाब देते हुए डॉक्टर रिजवाना अब्बासी कहती है, कि इंडिया अपने स्ट्रैटेजिक गेन करना चाहता है। इंडिया अमेरिका के लिए स्ट्रैटेजिक महत्व रखता है और इंडिया इसका फायदा उठाना चाहता है।

इससे साफ होता है की भारत की बढ़ती रक्षा, सैन्य और सामरिक शक्ति को देखकर चीन और पाकिस्तान परेशान है।

Written by Devraj Dangi

AAP सांसद संजय सिंह की संसद में गुंडागर्दी, मार्शल के गले को दबाया, आप बता रही फिर भी हीरो

Indore: मानवता हुई शर्मशार, एक लाख के चक्कर में, शव को चूहों ने कतरा, यूनीक अस्पताल का मामला