in ,

तारिक फ़तेह का दावा: 26 जैन मंदिरों को तोड़कर बनाई थी ‘क़ुतुबमीनार’, नहीं होना चाहिए सेलिब्रेट

पिछले कुछ दिनों पूर्व उत्तरप्रदेश सरकार ने मुगलों की निशानियों से जुड़े आगरा के मुग़ल म्यूजियम का नाम बदलकर अब ‘छत्रपति शिवाजी’ के नाम पर रखने का फैसला किया हैं। योगी सरकार का ये फैसला हाल फ़िलहाल मीडिया की सुर्ख़ियों में हैं। सीएम योगी ने कहा था, ‘आगरा में निर्माणाधीन म्यूज़ियम को अब छत्रपति शिवाजी के नाम से जाना जायेगा। आपके नए उत्तरप्रदेश में गुलामी की मानसिकता के प्रतिक चिन्हों का कोई स्थान नहीं हैं। हम सबके नायक शिवाजी महाराज हैं।

उत्तरप्रदेश की योगी सरकार के इस फैसले से एक बार फिर से मुगलों के इतिहास को लेकर लोगों के बीच बहस छिड़ी हुई हैं। इस पूरी घटना पर पाकिस्तानी मूल के पत्रकार और लेखक तारेक फ़तेह ने भी अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की हैं। कनाडा में रह तारिक फ़तेह ने भारतीय टीवी चैनल आजतक के कार्यक्रम ‘दंगल’ में कहा, ‘जो लोग भारत को लूटने आये, आज हम उन्हें बादशाह के रूप में संदर्भित करते हैं। और जश्न मानते हैं।”

आजतक के कार्यक्रम में फ़तेह ने कहा ‘बाबर ना भारत में पैदा हुआ ना भारत में मरा। बाबर ने भारत में नफरत फैलाई और हजारों लोगों की हत्या करवाई। हम उसे हिंदुस्तान का बादशाह नहीं मान सकते।’ फ़तेह ने कहा, ‘ताजमहल हिन्दुस्तानियों ने बनवाया, दुनिया में ऐसा कोई देश नहीं जिसने खुद पर हमला करने वाले को सम्मानित किया हैं। केवल ऐसा भारत में हैं। उन्होंने हिन्दू, सिखों, मुसलमानों और शियों पर जुल्म ढहाए हैं।

वरिष्ठ लेखक और पत्रकार फ़तेह एक बड़ा दावा करते हुए आगे कहा कि, ‘दिल्ली की क़ुतुबमीनार को 26 जैन मंदिरों को तोड़कर बनाया गया। इसका जश्न मनाया जाता हैं। हमारा अपना आत्मसम्मान होना चाहिए। फ़तेह हमेशा हिंदुस्तान के पक्ष में अपनी बात रखते हैं वे अपने आप को पाकिस्तानी कहने की वजय हिंदुस्तानी कहने पर गर्व महसूस करते हैं।

दंगल में बातचीत करते हुए फ़तेह ने कहा ‘भारत को पहले सुल्तानों ने तबाह किया और लोगों को मारा। इसके विपरीत भारत में मुग़ल – ए – आजम बना दी गई हैं।उन्होंने कहा कि मुग़ल शब्द ही दूषित हैं यह मंगोल से जुड़ा हुआ हैं। यह वो हैं जिन्हे समरकंद में कुछ नहीं मिला तो तैमूर की औलादे यहाँ यानी भारत आई और लूटकर चले गए।’

आपको बता दे कि इससे पहले भारत के सांस्कृतिक मंत्री ने भी क़ुतुबमीनार में आयोजित एक कार्यक्रम में पिछले साल कहा था की क़ुतुबमीनार 27 जैन मंदिरों को तोड़कर बनाया गया था। फ़तेह मूल रूप से पाकिस्तानी हैं और फ़िलहाल कनाडा रहते हैं। वह कटटरपंथी इस्लाम के खिलाफ हैं और भारत समर्थक माने जाते हैं।

Written by Devraj Dangi

मोदी कैबिनेट से इस्तीफा देने वाली खूबसूरत महिला मंत्री हरसिमरत कौर सबसे ज्यादा पैसे वाली मंत्री थी, पढ़िए उनके बारे में……

UP: पहले प्रेमजाल, धर्मांतरण की आड़ में हिन्दू लड़कियों के उत्पीड़न और लव जिहाद पर योगी सख्त, जल्द लाएंगे अध्यादेश