in

दिल्ली दंगे भड़काने आरोप में JNU का पूर्व छात्र नेता ‘उमर खालिद’ हुआ गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर……

एक मीडिया रिपोर्ट्स मके मुताबिक दिल्ली पुलिस ने राजधानी के देश – दुनिया में प्रतिष्ठित संस्थान जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) छात्रसंघ के पूर्व नेता उमर खालिद को गिरफ्तार कर लिया हैं। उमर की यह गिरफ्तारी देर रात रविवार को हुई हैं। दिल्ली पुलिस को उमर की तलाश थी जो दिल्ली में हुए खुनी दंगों का आरोप हैं। पुलिस ने दंगे से जुड़े एक अन्य मामले में उमर के खिलाफ गैर क़ानूनी गतिविधियों (निषेध) क़ानून (UPA) के तहत कार्रवाई हुई हैं। दिल्ली पुलिस की विशेष टीम ने भी दिल्ली दंगे के पीछे कथित साजिश के मामले में उमर से पूछताछ की थी। पुलिस ने उसका मोबाइल फ़ोन को भी जब्त कर लिया था।

CAA (नागरिकता संसोधन अधिनियम) विरोधी प्रदर्शनों के दौरान फैली थी हिंसा

आपको बता दे की इस साल की शुरआत में राजधानी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोधी और समर्थकों के बीच हिंसा के बाद 24 फरवरी को उत्तर पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक दंगे भड़क गए थे जिसमें कम से कम 53 लोगों की मौत हुई थी जबकि 200 के करीब घायल हुए थे। इस मामले में हाल ही में कई बड़े नेताओं के खिलाफ दिल्ली पुलिस मे चार्जशीट दाखिल की है। जिसमे मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक माकपा नेता सीताराम येचुरी और स्वराज पार्टी के योगेंद्र यादव के नाम की भी खबर हैं, लेकिन हम इनके नाम की पुष्टि नहीं करते हैं।

Credits: The Indian Express

दिल्ली में हुए इस खुनी दंगों में आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और पार्षद ताहिर हुसैन को भी दोषी पाया था, फ़िलहाल वह गिरफ्तार हैं, उसके ऊपर आईबी के अधिकारी की हत्या का भी आरोप हैं।

पूर्व आप नेता और पार्षद ताहिर हुसैन के एक घर से पेट्रोल बम समेत कई अवैध हथियार पकड़ाए थे, जो एक प्रतिनिधि था, अगर वह एक समुदाय विशेष के खिलाफ अपने समुदाय के लोगों को बरगलाता हैं और उनके खिलाफ हिंसा करता हैं तो आप समझ सकते हैं ये जनप्रतिनिधि कम और आतंकी या फिर गुंडे हैं।

Written by Devraj Dangi

‘मैं वर्जिन हूँ, अब्दुल को जानती हूँ मुझे खुश रखेगा’ पाक में 14 साल की हिन्दू लड़की का जबरन अपहरण – धर्मांतरण और निकाह के लिए झूठा एफिडेविट

राज्यसभा ने NDA ने दिखाई शक्ति, JDU के हरिवंश बने उपसभापति, PM ने बताया शानदार ‘अंपायर’