in

दीदी के बंगाल में क्या हिन्दू असुरक्षित हैं, ‘काली माँ की मूर्तियों को जिहादियों ने जला डाला ? बीजेपी सांसद का आरोप !

पश्चिम बंगाल में आये दिनों हिन्दू देवी – देवताओं को लेकर कई तरह की खबरे आती रहती हैं, हिन्दू धर्म से जुड़े कई लोग और बीजेपी कार्यकर्त्ता सूबे की ममता बनर्जी सरकार पर कई तरह के आरोप लगाते रहे। बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह ने मंगलवार की देर रात (1 सितंबर, 2020) को एक ट्वीट किया। ट्वीट के अनुसार पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के एक मंदिर में माँ काली की मूर्ति जला दिया गया। सांसद ने आरोप लगाया कि यह काम जिहादी प्रवृति के कुछ लोगों द्वारा किया गया है। बीजेपी सांसद ने आरोप लगया की बंगाल में काली माता की मूर्तियों को जलाया गया हैं।

यह कोई पहला मौका नहीं जब बंगाल में इस तरह की घटना सामने आई हो, इससे पहले भी कई तरह की हिन्दू विरोधी घटना को कटटरपंथी और हिन्दू विरोधी लोग अंजाम दे चुके। बीजेपी सांसद ने ट्वीट करते हुए लिखा, “एक संप्रदाय विशेष से संबंधित कुछ लोगों ने एक मंदिर पर हमला किया, मंदिर को नष्ट कर दिया और देवी माँ काली की मूर्ति को जला दिया।”

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में घटी इस घटना पर मुर्शिदाबाद पुलिस ने सांसद अर्जुन सिंह के आरोपों का खंडन किया है। ट्विटर पर पुलिस ने जो बताया, उसके अनुसार मंदिर समिति ने कहा है कि माँ काली की मूर्ति को जो क्षति हुई है, वो आग लगने की सामान्य घटना के कारण हुई है। जबकि सांसद का कहना हैं कि यह घटना कुछ संप्रदाय विशेष के लोगों ने अंजाम दिया।

पश्चिम बंगाल की मुर्शिदाबाद पुलिस के दावे के अनुसार यह घटना 31 अगस्त और पहली सितंबर की रात को हुई थी। इस घटना में केवल मूर्ति नष्ट हुई है। बाकी मंदिर को क्षति नहीं पहुँची है। लेकिन यह अगर किसी संप्रदाय विशेष लोगों ने अगर इस घटना को अंजाम दिया हैं तो उन पर कार्रवाई होनी चाहिए हैं।

Written by Devraj Dangi

कुँवर चैनसिंह, अंग्रेजो से लड़ते-लड़ते जब गर्दन कट गई तो इनका घोड़ा धड़ लेकर घर आया था!

ईरानी मुस्लिम युवक व AtheistRepublic.com के संस्थापक ने कुरान पर थूका और उसके पन्नों को फाड़ दिया, कहा- ‘कुरान का अपमान करो’