in ,

UP में ‘लव जिहाद’ करना पड सकता हैं महंगा, CM योगी ने दिए सख्त कानून बनाने के संकेत !

जहाँ देश में एक ओर कोरोना का जबरदस्त प्रहार जारी हैं तो दूसरी तरफ उत्तरप्रदेश में इन दिनों ‘लव जिहाद’ का मुद्दा जोरों पर हैं। उत्तरप्रदेश के कानपुर से लेकर लखीमपुर, खीरी, बलरामपुर सहित राज्य के उनके जिलों से लगातार महिला उत्पीड़न और लव जिहाद की खबरे आ रही हैं, जिस राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तीखी नजर हैं और उनकी सरकार ने सख्त कदम उठाने के निर्देश भी दे दिए हैं। लव जिहाद के मुद्दे पर हिन्दू संगठन विश्व हिन्दू परिषद चाहती हैं कि इसे रोकने के लिए कड़ा कानून बनाने की मांग की हैं। लव जिहाद की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए मुख्यमंत्री योगी ने इस मुद्दे कार्य योजना बनाने के निर्देश अधिकारीयों को दिए। आपको बता दे कि हाल ही के कुछ दिनों में मेरठ, खीरी, कानपुर जैसे शहरों में लव जिहाद के कुछ मामलो ने बड़ा तूल पकड़ा हैं। यहाँ पर कुछ लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाने की बाते सामने आई हैं। जिसमे हिन्दू लड़कियों के धर्मांतरण जैसी बाते भी आई हैं।

जागरूकताअभियान शुरू करेगा VHP

उत्तरप्रदेश में बढ़ती लव जिहाद की घटनाओं को लेकर कानपुर के विश्व हिन्दू परिषद के प्रांत संगठन मंत्री मधुराम मिश्रा का कहना है कि लव जिहाद का मामला बहुत पुराना है। इसे लेकर एक गिरोह सक्रिय है। मिश्रा ने बताया कि उत्तरप्रदेश के कानपुर, फरूर्खाबाद, झांसी, इटावा, हमीरपुर, ललितपुर, फतेहपुर, हर जिले में कुछ न कुछ केस हैं। लोग हमारे संपर्क में हैं और इसे लेकर हम लोग जागरूकता कर रहे हैं। विश्व हिन्दू परिषद लव जिहाद को लेकर पुरे प्रदेश में जागरूकता अभियान जलायेगी।

युवती ने धर्म परिवर्तन कर किया निकाह
कुछ दिनों पहले ही कानपुर के बर्रा-6 की युवती ने सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल कर धर्म परिवर्तन कर अपनी मर्जी से निकाह करने की बात कही थी। इसके बाद विश्व हिंदू परिषद के कार्यकतार्ओं ने युवक पर जबरन धर्म परिवर्तन कराने का आरोप लगाते हुए किदवई नगर थाने के बाहर हंगामा किया था। इस दौरान उन्होंने युवती को बरामद करने और आरोपी युवक को गिरफ्तार कर कार्रवाई की मांग की थी। २३ वर्षीय शालिनी यादव ने एक मुस्लिम लड़के से निकाह किया लेकिन इससे पहले उस हिन्दू यानी अपना धर्म छोड़ना पड़ा।

पुरे प्रदेश में सक्रीय हैं लव जिहाद का सक्रीय गिरोह

VHP के क्षेत्र प्रसार प्रमुख भोलेन्द्र ने बताया कि लव जिहाद के मामले उत्तर प्रदेश के हर जिले में नेटवर्किंग के रूप में काम कर रहे हैं। इसके बाकायदा एजेंटे हैं, हाल ही में लखीमपुर और कानुपर की घटना उजागर हुई है। गरीब तपके और ग्रामीणों को इसमें टारगेट किया जाता है। वही उत्तरप्रदेश के एडीजी कानून व्यवस्था प्रशान्त कुमार ने कहा, ‘पुलिस महिला हिंसा मामले में संवेदनशीलता के साथ काम कर रही है। इन्टरफेथ बातों पर विषेश ध्यान दिया जा रहा है। जहां से रिपोर्ट आ रही है, उसे विशेष रूप से देखा जा रहा है।’ अभी उत्तरप्रदेश में यह मुद्दा अभी जोरों पर हैं।

लव जिहाद पिछले उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव बड़ा मुद्दा रहा हैं, मुख्यमंत्री ने कई चुनावी सभाओं में इस मुद्दे को उठाया हैं और वह कहते थे,’अब जोधाबाई अकबर के साथ नहीं जाएगी और सिकंदर अपनी बेटी चंद्रगुप्त मौर्य को देने के लिए मजबूर होगा।’ सीएम योगी कई बार इसे अन्तर्राष्ट्रीय सजिश भी बता चुके हैं, उनका कहना हैं कि लव जिहाद के पीछे दुनिया के कुछ देशों की बड़ी साजिश हैं।

Written by Devraj Dangi

‘मणिकर्णिका’ के बाद एक बार फिर ”तेजस” में कंगना का दमदार लुक आया सामने, जानिये कब आएगी फिल्म !

हिन्दू देवी – देवताओं पर अशोभनीय टिप्पणी करने वाली Youtuber हीर खान की माँ ने कबूला पाक कनेक्शन, पूर्व नामी पाक क्रिकेटर को बताया रिश्तेदार