in ,

23 नेताओं के जिस “लेटर बम” पर कांग्रेस में मचा घमासान, उसका शशि थरूर की डिनर पार्टी में बना था प्लान

कांग्रेस पार्टी में बदलाव को लेकर लिखे गए जिस लेटर पर घमासान हुआ अब उसके बारे में नई जानकारी सामने आई है. पता चला है कि इस लेटर के लिखे जाने की भूमिका कांग्रेस नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) के घर, उनकी डिनर पार्टी में ही तैयार हुई थी. करीब 5 महीने पहले हुई इस पार्टी में कांग्रेस के कई सीनियर नेता शामिल थे. कई ऐसे भी हैं जो उस पार्टी में तो थे लेकिन पत्र पर उनके साइन नहीं थे, वहीं कुछ ऐसे भी जो पार्टी में तो नहीं थे लेकिन पत्र पर उनके साइन थे.

चिदंबरम, सचिन पायलट, मणि शंकर अय्यर भी थे पार्टी में

हिंदुस्तान टाइम्स की एक खबर के मुताबिक, शशि थरूर की डिनर पार्टी में कांग्रेस नेता पी चिदंबरम, उनके बेटे कार्ति चिदंबरम, सचिन पायलट, अभिषेक मनु सिंघवी और मणि शंकर अय्यर भी शामिल थे.

लेकिन इनमें से किसी के भी उस पत्र पर साइन नहीं थे जो बदलाव की मांग के लिए लिखा गया था.

खबर के मुताबिक, जब इसपर सिंघवी से सवाल पूछा गया तो उन्होंने पार्टी में शामिल होने और बदलाव को लेकर हुई अनौपचारिक चर्चा की बात मानी. वह बोले कि उन्हें इसके बारे में पत्र लिखे जाने की जानकारी नहीं थी. मणि शंकर अय्यर ने भी कहा कि लेटर पर उनके साइन नहीं है क्योंकि किसी ने उन्हें इसके बारे में बताया नहीं था.

7 घंटे चली बैठक, फिर सोनिया को ही कमान

बता दें कि कांग्रेस पार्टी में ऊपर से नीचे तक बदलाव को लेकर एक पत्र लिखा गया था. इस पत्र को कांग्रेस के 23 सीनियर नेताओं ने लिखा था. इसके बाद सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद से हटने का फैसला किया था. फिर सोमवार को कांग्रेस की CWC बैठक भी हुई. लेकिन करीब 7 घंटे चली बैठक और तरह-तरह की खबरें आने के बीच अंत में तय हुआ कि फिलहाल सोनिया गांधी ही अंतरिम अध्यक्ष बनी रहेंगी और 6 महीने में नया अध्यक्ष खोजा जाएगा.

Written by Ojas Nihale

एक लेखक अपनी कलम तभी उठाता हैं, जब उसकी संवेदनाओ पर चोट हुई हों !! पत्रकारिता में स्नातकोत्तर...
कभी सही कभी गलत, जैसा आपका नजरिया !

भारत-चीन सीमा विवाद: CDS विपिन रावत का बड़ा बयान कहा – वार्ता विफल हुई तो सैन्य विकल्प तैयार

सिंधिया के नेतृत्व में बीजेपी को हुआ बड़ा फायदा, 3 दिनों में 75 हजार से ज्यादा कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने ‘हाथ’ का दामन छोड़ ‘कमल’ का थाम लिया हैं।