in

सुरक्षा बलों को मिली बड़ी कामयाबी, दिल्ली से ISIS का आतंकी अबू युसूफ हुआ गिरफ्तार, इससे पहले बैंगलोर से डॉ अब्दुल रहमान निकला था ISIS का आतंकी

बैंगलूर के बाद आज राजधानी दिल्ली में ISIS का संदिग्ध आतंकी गिफ्तार हुआ हैं, दिल्ली पुलिस, उतरप्रदेश ATS और केंद्रीय जाँच एजेंसी आतंकी अबू युसुब से पूछताज कर रही हैं। देश में अपने पांव पसारने में विफल रहा आतंकी संगठन ISIS फिर से गुस्तागी करने और अपनी जड़े ज़माने का प्रयास कर रहा हैं लेकिन भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसियो के बदौलत वह कामयाब नहीं हो पा रहे हैं।

दिल्ली से आतंकी युसुब की गिरफ्तारी के बाद उत्तरप्रदेश पुलिस अलर्ट पर हैं, यूपी एटीएस, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के संपर्क में है। इंटीलिजेंस ब्यूरो, मिल्ट्री इंटेलिजेंस के अधिकारी लोधी कॉलोनी स्पेशल सेल के ऑफिस में आतंकी से पूछताछ कर रहे हैं। इसके साथ ही यूपी एटीएस की एक टीम बलरामपुर रवाना हो रही है। बताया जा रहा है कि एटीएस की टीम कुछ जगहों पर छापेमारी कर सकती है। ISIS जैसा संगठन भारतीय युवाओं को बरगला कर ऐसा कर रहा हैं।

आईईडी डिफ्यूज करते एनएसजी के जवान
Credits : AajTak

उत्तरप्रदेश पुलिस के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने बताया हैं कि दिल्ली में आईईडी के साथ एक व्यक्ति के गिरफ्तारी के बाद पूरे यूपी में भी सतर्कता बरतने के आदेश प्राप्त हुए हैं पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ने सभी फील्ड के अधिकारियों को इस मामले में सभी आवश्यक कदम उठाने के दिशा – निर्देश जारी किये हैं।

गिरफ्तार आतंकी से पूछताज जारी

राजधानी दिल्ली से गिरफ्तार हुआ ISIS आतंकी अबू युसूफ से पूछताछ की जा रही है। दिल्ली पुलिस, यूपी एटीएस और केंद्रीय एजेंसियों की टीम पूछताछ कर रही है। उससे पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि उसने कब और कहां-कहां की रेकी की? आईईडी बम कहां से लाया? दिल्ली में किसके संपर्क में थे और कितने साथी हैं? ट्रेनिंग कब और कहां हुई? यह सारी जानकारी जुटाने की कोशिश जाँच एजेन्सिया कर रही हैं।

यह भी पढ़े….

जाँच एजेंसियों का प्रयास हैं की गिरफ्तार आतंकी अबू युसूफ से ज्यादा – ज्यादा जानकारी इक्क्ठी की जाए। इसके साथ ही उससे पूछा जा रहा है कि वह कितनी बार दिल्ली आ चुका है? दिल्ली में क्या निशाने पर था? पैसे कहां से मिलते थे? आपस में किस तरह कम्यूनिकेट करते थे? ठिकानों के बारे में पूछताछ हो रही है? मोबाइल फोन को खंगाला जा रहा है। बताया जा रहा है जांच एजेंसियों को आतंकी बरगलाने की कोशिश कर रहा है। यानी जाँच एजेंसियों का प्रयास हैं आतंकी के पुरे नेटवर्क तक पहुंचने का।

एक हफ्ते में जाँच एजेंसियों को यह दूसरी बड़ी कामयाबी मिली हैं इसे पहले उन्होंने कर्नाटक के बैंगलूर से पेशे से डॉक्टर पर कर्म से isis का आतंकी अब्दुल रहमान को गिरफ्तार किया था और आज राजधानी दिल्ली से दूसरा isis का गिरफ्तार होना।

Written by Devraj Dangi

दिल्ली में गिरफ्तार आतंकी का खुलासा- राम मंदिर बम धमाके का था प्लान

कश्मीर में भारतीय सेना को मिली बड़ी कामयाबी, पिछले 7 माह में 26 टॉप कमांडर सहित 150 आतंकियों का किया सफाया !