in

कैसे भरोसा करें? बैंगलोर का पढ़ा-लिखा डॉक्टर निकला ISIS का आतंकवादी, दक्षिण भारत की सेक्युलर सरकारों में फल फूल रहे है आतंकी!

इस्लामिक स्टेट और इराक एंड सीरिया यानी isis इराक और सीरिया के कई हिस्सों को तबाह कर चूका हैं, लेकिन उसकी खिसकती हुई जमींन को बचाने की कोशिश कर रहा ISIS अब हिंदुस्तान को निशाना बनाना चाहता हैं। खासकर वामपंथी सरकार के गढ़ केरल को वह निशाना बना रहा हैं। देश में कट्टरपंथी लगातार देश विरोधी गतिविधियों में शामिल पाए जा रहे हैं। कभी दिल्ली में जनता के द्वारा चुना गया आप नेता और पार्षद ताहिर हुसैन आतंकी बन जाता हैं, राजधानी में हिंसा की आग लगाता हैं।, कभी विश्विद्यालय में पढ़ने वाले लड़के बम ब्लास्ट की तैयारी करते हैं, तो अब बैंगलोर में एक पेशे से डॉक्टर पकड़ा गया जो ISIS का आतंकवादी निकला हैं। यह यही नहीं ISIS के सीरिया स्थित हड्डों से ट्रेनिंग लेकर आया हैं। और हमारी ख़ुफ़िया एजेंसियों को बता तक नहीं चला।

राष्ट्रीय जाँच एजेंसी NIA ने बेंगलूर से एक आरोपी को गिरफ्तार किया हैं। गिरफ्तार किये शख्स का नाम अब्दुल रहमान बताया जा रहा हैं। यह पेशे से नेत्र रोग विशेषज्ञ बताया जाता हैं। यह डॉक्टर सीरिया जाकर ISIS के आतंकियों का इलाज भी कर चूका हैं। फ़िलहाल यह बैंगलुरू के रमैया मेडिकल कॉलेज में नेत्र रोग विशेषज्ञ के रूप में कार्यरत हैं।

ISKP से जुड़ा यह मामला दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा मार्च, 2020 में कश्मीरी दंपति की गिरफ्तारी के बाद दर्ज किया गया था। दिल्ली के जामिया नगर के ओखला विहार से जहानज़ीब सामी वानी और उनकी पत्नी हिना बशीर बेघ को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इस दंपति को ISKP से संबद्ध पाया गया था। यह एक प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन है और ISIS का एक हिस्सा है और इसे विध्वंसक और राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल पाया गया है। ये कश्मीरी दम्पत्ति अब्दुल्ला बसिथ के संपर्क में भी आई थी, जो पहले से ही एक और एनआईए मामले (आईएसआईएस अबू दबी मॉड्यूल) में तिहाड़ जेल में बंद थे। तब से देश सुरक्षा एजेंसीया इसको लेकर सक्रीय थी और पड़ताल कर रही थी।

ISIS news update today: group executes 4 leaders for escaping Anbar
Credits: Iraqinews.com

NIA की पूछताछ के दौरान, गिरफ्तार आरोपी अब्दुर रहमान ने कबूल किया कि वह आरोपी जहानजीब सामी और अन्य सीरिया स्थित आईएसआईएस गुर्गों के साथ आईएसआईएस गतिविधियों को आगे बढ़ाने के लिए सुरक्षित मैसेजिंग प्लेटफॉर्म पर साजिश रच रहा था। वह संघर्ष-क्षेत्रों में घायल आईएसआईएस कैडरों की मदद के लिए एक चिकित्सा प्रक्रिया विकसित करने और आईएसआईएस लड़ाकों के लिए एक हथियार से संबंधित आवेदन करने की प्रक्रिया में था। लेकिन सोचिये यह लोगों किस प्रकार गुप्त रूप से आंतकी गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं।

पेशे से डॉक्टर रहमान सीरिया चला जाता हैं, ISIS के आतंकियों का इलाज कर आता हैं, लोगों की आँखों में डॉक्टरी का चौला पहन शरीफ इंसान बना रहा हैं। देश में कई युवाओं को भड़का कर यह ISIS की ट्रैनिग दिलाने का काम भी करता हैं। हमारी सुरक्षा एजेंसीयों को और अधिक सतर्क रहने की जरूरत हैं ताकि देश के अंदर पैर पसारने से पहले ही इस आतंकी नेटवर्क को ध्वस्त किया जा सके।

Written by Devraj Dangi

आमिर खान को लेकर सुब्रमण्यम स्वामी बोले, ‘लौटने पर सरकारी हॉस्टल में हों क्वारंटीन’

सड़क-2 के ट्रेलर पर 1 करोड़ Dislikes मिलने के बाद भावुक पूजा भट्ट ने ट्वीटर पर ये कहा!