in

OMG! इस देश मे बिना कपड़ों के नाचती है कुंवारी लड़कियां, जिनमे से राजा चुनता है नई रानी

हर देश में अलग-अलग कानून निभाए जाते हैं। ऐसे कई देश हैं जो अपने अजीबोगरीब कानून के लिए जाने जाते हैं। इन्हीं में से एक है स्वाजीलैंड। अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड का नाम अब बदलकर ‘द किंगडम ऑफ इस्वातिनी’ रखा गया। पिछले साल यहां के राजा ने देश की आजादी के 50 साल के मौके पर यह घोषणा की थी।

बिना कपड़े पहने राजा के सामने नाचती हैं कुंवारी लड़कियां
यह देश अपने अजीबोगरीब फेस्टिवल के लिए फेमस है। दरअसल, यहां हर साल अगस्त-सितंबर महीने में महारानी की मां के शाही गांव लुदजिजिनी में ‘उम्हलांगा सेरेमनी’ फेस्टिवल होता है, जिसमें 10 हजार से ज्यादा कुंवारी लड़कियां और बच्चियां शामिल होती हैं। फेस्टिवल के दौरान कुंवारी लड़कियां राजा के सामने डांस करती हैं वो भी बिना कपड़े पहने।

साल 2015 में राजा मस्वाती तृतीय भारत आ चुके हैं

इन्हीं लड़कियों में से राजा चुनता है नई रानी
जी हां, ये लड़कियां बिना कपड़े पहने ही राजा और समस्त प्रजा के सामने डांस करती हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, इन्हीं लड़कियों में से राजा अपनी नई रानी चुनते हैं। इसी के साथ फेस्टिवल में लड़कियों को अपनी परंपराओं को समझने का मौका मिलता है। यहां की बुजुर्ग महिलाएं जवां लड़कियों को शादी तक वर्जिनिटी बनाए और अपने शरीर को सुंदर बनाने की सीख देती है।

शादी से पहले प्रेग्नेंट होने पर लड़की के परिवार को भरना पड़ता हैं जुर्माना
इस देश के कानून के मुताबिक अगर कोई लड़की शादी से पहले प्रेग्नेंट हो जाए तो उसके पूरे परिवार को जुर्माना भरना पड़ता है। उन्हें एक गाय देनी पड़ती है। बता दें कि इस देश के राजा ने 14 शादियां की है और उनके 25 बच्चे है। कहा जाता है कि राजा ने यह आदेश दिए थे कि यहां के लोग कम से कम 2 शादियां करें लेकिन राजा ने इस बात को झूठ कहा।

साल 2015 में राजा मस्वाती तृतीय भारत आ चुके हैं
बताते चलें कि वर्ष 2015 में भारत अफ्रीका शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए राजा मस्वाती तृतीय भारत भी आ चुके हैं.राजा मस्वाती तृतीय अपने साथ 15 पत्नियां, बच्चे और 100 नौकरों के साथ आए थे. उन्हें दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में ठहराया गया था, जिसमें उनके लिए 200 कमरे बुक हुए थे.

Written by Ojas Nihale

एक लेखक अपनी कलम तभी उठाता हैं, जब उसकी संवेदनाओ पर चोट हुई हों !! पत्रकारिता में स्नातकोत्तर...
कभी सही कभी गलत, जैसा आपका नजरिया !

दिल्ली दंगो की गुरिल्ला टेक्निक का इस्तेमाल किया गया बेंगलोर हिंसा में, पुलिस और पुलिस की गाड़ियों को टार्चर किया गया

पीएम मोदी ने तोड़ा अटल जी का रिकॉर्ड, स्वतंत्रता दिवस पर बनायेंगे नया रिकॉर्ड!