in

असम के अविवाहित मुख्यमंत्री पर एनडीटीवी ने फैलाया झूठ, बता दिया छह बच्चो का पिता, मांगना पड़ी माफ़ी

राज्य की जनसंख्या वृद्धि दर को स्थिर करने के लिए, असम मंत्रिमंडल ने 1 जनवरी 2021 के बाद राज्य में दो से अधिक बच्चों को सरकारी नौकरी न देने का फ़ैसला किया। पंचायती राज और नगर निकाय चुनाव के लिए राज्य में पहले से ही दो-बच्चे का मानक लागू था, और अब उसी मानक को राज्य स्तर की सरकारी नौकरियों तक बढ़ाया गया है। इस फ़ैसले को लेकर समाचार पढ़ते हुए, NDTV की एंकर सोनल मेहरोत्रा ​​कपूर ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को बदनाम करने के लिए झूठ बोलने और फ़र्ज़ी ख़बरें फैलाने का विकल्प चुना। यह हम नहीं कह रहे, खुद NDTV का वीडियो इसका जीता-जागता प्रमाण है।

NDTV की एंकर सोनल मेहरोत्रा ​​कपूर ने असम में सरकारी नौकरियों के लिए दो-बच्चे से संबंधित खबर को पढ़ते हुए दावा किया कि दो से अधिक बच्चे वाले लोग असम में सरकारी नौकरी पाने के पात्र नहीं होंगे, जबकि असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के ख़ुद 6 बच्चे हैं।

यह भी पढ़े- बदरुद्दीन अजमल के बोल- बच्चा पैदा करने के लिए मुस्लिमों को जो करना होगा करेंगे

बड़े ही नाटकीय अंदाज़ में, सोनल मेहरोत्रा ​​कपूर ने अपने दर्शकों को बताया कि दिलचस्प बात यह है कि मुख्यमंत्री के ख़ुद के 6 बच्चे हैं, लेकिन उन्होंने इस दो-बाल नीति को लागू करने का फ़ैसला किया है।

इस वीडियो को NDTV ने माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर भी शेयर किया था लेकिन, अब लगता है कि इसे NDTV ने डिलीट कर दिया है। लेकिन तकनीक के इस दौर में अगर वीडियो शेयर करने और डिलीट करने का ऑप्शन है तो समय रहते डाउनलोड करने का अवसर भी इसी तकनीक ने दिया है। ऊपर आप उसी डाउनलोड किए वीडियो को देख सकते हैं।

दरअसल, NDTV की एंकर सोनल मेहरोत्रा ख़ुद सच्चाई से कोसों दूर हैं क्योंकि उन्हें नहीं मालूम कि असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के 6 बच्चे नहीं हैं। वास्तव में, असम के मुख्यमंत्री अविवाहित हैं और एकल जीवन जीते हैं।

Written by Ojas Nihale

एक लेखक अपनी कलम तभी उठाता हैं, जब उसकी संवेदनाओ पर चोट हुई हों !! पत्रकारिता में स्नातकोत्तर...
कभी सही कभी गलत, जैसा आपका नजरिया !

बच्चा पैदा करने के लिए मुस्लिम को जो करना होगा वो करेँगे, किसी की नहीं सुनेंगे – सांसद बदरुद्दीन अजमल

अमेरिकी अखबार वॉशिंगटन पोस्ट ने आईएसआईएस सरगना बगदादी को बताया धार्मिक स्कॉलर, हुआ ट्रोल